Skip links

मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे,
अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती||

वो मुझसे पूछती है की ख्वाब किस-किस के देखते हो,
बेखबर जानती ही नहीं की यादें उसकी सोने कहाँ देती है||

पूछते थे ना कितना प्यार है हमें तुम से,
लो अब गिन लो  ये बूँदें बारिश की ।

मंज़र भी बेनूर थे और फ़िज़ाएं भी बेरंग थी..
बस तुम याद आये और मौसम सुहाना हो गया||

कोई नही आऐगा मेरी जिदंगी मे तुम्हारे सिवा
एक मौत ही है जिसका मैं वादा नही करता||

भाई की पहोंच दिल्ली से लेकर कब्रस्तान तक हैं ,
आवाज दिल्ली तक जाती हैं ओर दुश्मन कब्रस्तान तक||

ऐ चाँद चमकना छोड़ दे, तेरी चाँदनी हमको सताती है,
तेरे जैसा ही उसका चेहरा है, तुझे देख के वो याद आती है||

“काश तुम मेरे होते ”

साँस ही थम जाती अगर ये लफ्ज़ तेरे होते ।

खुद मे हम कुछ इस कदर खो जाते है
सोचते है आपको तो आप ही के हो जाते है||

मेरी खामोसी को कमजोरी ना समझ
ऐ काफिर ,,
गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है ।

नींद तो ठीक ठाक आई पर जैसे ही आँख खुली,
फिर वही ज़िन्दगी और वो पगली याद आई||

Tere Wadon Pe Kahan Tak Mera Dil Fareb Khaye..
Koi Aisa Kar Bahana Meri Aas Toot Jaye !!!

इश्क मुहब्बत क्या है? मुझे नही मालूम!
बस तुम्हारी याद आती है… सीधी सी बात है।

तुझ मेँ और मुझमेँ फर्क है सिर्फ इतना तेरा कुछ कुछ हूँ मैँ,

और मेरा सब कुछ है तू।

हजारो बार ली हैं तलाशियाँ तुमने मेरे दिल की
बताओ कभी कुछ मिला है तुम्हारे सिवा !!!!

हम आहिर हे, प्यार से मांग लो
‘ जान हाजिर ‘ ।
वरना तलवारों से इतिहास लिखना
हमारी परंपरा हे ।।

मुझे उसकी ये मासुम अदा बहुत भाती है,
नाराज मुझ से होती है और गुस्सा सबको दिखाती है||

तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना
हम ‘जान’ दे देते हैं मगर ‘जाने’ नहीं देते !!

कभी रजामंदी, तो कभी बगावत है इश्क,
मोहब्बत राधा की है, तो मीरा की इबादत है इश्क..!!

हे!

मेरे 33 करोड़ देवी- देवताओं मुझे यादा कुछ नहीं चाहिए..

बस आप सब एक एक रुपिया दे दो॥

माँ ने कहा था कभी किसीका दिल मत तोडना,,
इसलिए हमने दिल को छोड के बाक़ी सब तोड़ा ||

रात चुपके से आ के तेरी याद फिर !
मेरी आँखों से नींदें उड़ा ले गयी !!

सच कहा था किसी ने तन्हाई में जीना सीख लो,
मोहब्बत जितनी भी सच्ची हो साथ छोड़ ही जाती है !

कौन खरीदेगा अब हीरो के दाम में तुम्हारे आँसु ,

वो जो दर्द का सौदागर था,

मोहब्बत छोड़ दी उसने..💗

मोहब्बत किससे और कब हो जाये अदांजा नहीं होता
ये वो घर है,

जिसका दरवाजा नहीं होता..!!

होता अगर मुमकिन,

तुझे साँस बना कर रखते सीने में
तू रुक जाये तो मैं नही,

मैं मर जाऊँ तो तू नही….!!!

कुछ लडकिया तो इतनी सुन्दर होती है के मैं मन ही मन में खुद को रिजेक्ट कर लेता हु।

उम्र और ज़िन्दगी में बस फर्क इतना…
जो तेरे बिन बीति वो उम्रऔर जो तेरे साथ गुज़री वो ज़िन्दगी||

ये दिल ही तो जानता हैं मेरी पाक मोहब्बत का आलम
के मुझे जीने के लिए सांसो की नहीं तेरी ज़रूरत हैं||

आज कल

“Whatsapp”

पर वो लोग

“Admin”

बने हुऐ हें जो स्कूल टाइम में दो दो घण्टे मुर्गा बना करते थे ।

मंज़र भी बेनूर थे और फ़िज़ाएं भी बेरंग थी,

बस तुम याद आये और मौसम सुहाना हो गया ।

जिस्म से होने वाली मुहब्बत का इज़हार आसान होता है
रुह से हुई मुहब्बत को समझाने में ज़िन्दगी गुज़र जाती है||

एक चिड़ा था…

एक चिड़ी थी…..

दोनों की शादी हो गयी और…

वो चिड़चिड़े हो गए।

हमारी गोली जान नही लेती बोस
दुसरो के अन्दर “जानवर” जगा देती हे ।

लगता है खुदा ने दिल बनाने का काँन्ट्रेक्ट चाईना को दे दिया है…

आज कल टूट बहुत रहे है||

मुझे  ये  दिल  की  बीमारी  ना   होती,

अगर  तू  इतनी  प्यारी  ना  होती||

परम सत्य :

कितनी भी Mountain Dew पीयो पर डर तो दारु पीने से ही दूर होता है||

कब तक बहाना बनाता रहूँ आँख में कचरा चले जाने का||
लो आज सरेआम कहता हूँ के मे तुझे याद करके रोता हूँ||

अजीब दस्तूर है, मोहब्बत का,
रूठ कोई जाता है, टूट कोई जाता है||

ना

“Pimple”

वाली के लिये,

ना

“Dimple”

वाली के लिये,

ये

“Photo”

है सिर्फ अपनी

“Simple”

वाली के लिये||

आजकल बच्चै 80% नंबर लाकर भी रो रहे हैं..

और एक हम थे जो दसवी में 38% नंबर लेके भी गली में नुक्ती बाँट दिया करते थे||

है कोई वकील इस जहान में,
जो हारा हुआ इश्क जीता दे मुझको||

ये तो ज़मीन की फितरत है की,

वो हर चीज़ को मिटा देती हे वरना,
तेरी याद में गिरने वाले आंसुओं का,

अलग समंदर होता।

Bedard Zamane Ka Bahana Sa Bana Kar;
Hum Toot Ke Rote Hain Teri Yaad Me Aksar!

मैं अपनी मोहब्बत में,

बच्चो की तरह हूँ,

जो मेरा हैं बस मेरा है ,

किसी और को क्यो दुँ?”

अभी तो इश्क़ हुआ है…
मंज़िल’ तो मयखाने में मिलेगी||

काश सूरज☀ की भी बीवी होती तो उसे थोडा तो कंट्रोल में रखती||

मेरी नीम सी ज़िन्दगी शहद कर दे
कोई मुझे इतना चाहे की हद कर दे||

क्या करे बुरी आदत हे हमारी,

नर्क के दरवाजे के सामने खड़े होकर पाप करते हे ||

मंज़र भी बेनूर थे और फ़िज़ाएं भी बेरंग थी,
बस तुम याद आये और मौसम सुहाना हो गया ।

वो पूछते हैं क्या नाम है मेरा  मैंने कहा बस अपना कहकर पुकार लो ||

इश्क का जिसको ख्वाब आ जाता है
समझो उसका वक़्त खराब आ जाता है||

अंग्रेजी की किताब बन गई हो तुम,

पसंद तो आती हो पर समझ् मे नही||

आहिरों का बस यही अंदाज हे ,
जब आते हे तो गरमी अपने आप बढ़ जाती हे||

हर एक पहलू तेरा मेरे दिल में आबाद हो जाये,
तुझे मैं इस क़दर देखूं मुझे तू याद हो जाये||

मैं तो अभी भी छोटा ही हूँ  मेरी माँ मूजे बडा होने ही नहीं देती||

कितनी अजीब है मेरे अन्दर की तन्हाई भी
हज़ारों अपने हैं मगर,

याद तुम ही आते हो||

लोगो से कह दो हमारी तकदीर से जलना छोड़ दे हम घर से दवा नही माँ की दुआ लेकर निकलते है||

कल रात बरसती रही सावन की घटा भी
और हम भी तेरी याद में दिल खोल के रोये||

तुझे याद करना न करना अब मेरे बस में कहाँ,
दिल को आदत है हर धड़कन पे तेरा नाम लेने की||

काश तुम भी तुम्हारी यादो की तरह बन जाओ,
न वक़्त देखो, न बहाना बस चले आओ |

सुबह-सुबह फेसबुक,

ट्विटर और व्हट्सएप पर 3-4 किलोमीटर

तक उंगलियाँ खिसकाना

इसे भी मॉर्निंग वाक ही माना जाना चाहिए।

मंज़र भी बेनूर थे और फ़िज़ाएं भी बेरंग थी..
बस तुम याद आये और मौसम सुहाना हो गया||

कुत्ते भोंकते हे अपना वजूद बनाये रखने के लिये
और लोगो की खामोशी हमारी मौजूदगी बया करती हे ।।

वो मुझसे पूछती है की ख्वाब किस-किस के देखते हो,
बेखबर जानती ही नहीं की यादें उसकी सोने कहाँ देती है||

“मैने मम्मी से पूछा ये लडकिया क्यों इतने व्रत रखती है, मम्मी ने कहा – बेटा तू थोड़ी ना किसी को इतनी
आसानी से मिल जाएगा”

गरीबी जब दरवाजे से अन्दर आती है.|

तब
प्यार और मोहब्बत खिड़की से बाहर चले जाते हैं||

काश कोई हमारे पास भी आता और कहता कि-

‘ये लो

“Blank Cheque”

और निकल जाओ मेरी बेटी की जिन्दगी से||

ऐ चाँद चमकना छोड़ दे, तेरी चाँदनी हमको सताती है,
तेरे जैसा ही उसका चेहरा है, तुझे देख के वो याद आती है||

“इज्जत‬ किया करो ‪‎हमारी‬ ,

वरना ‪#‎Girlfriend‬ पटा लेंगे तुम्हारी||

मोहब्बत ख़ूबसूरत होगी किसी और दुनियाँ में
इधर तो हम पर जो गुज़री है हम ही जानते हैं||

कुछ मोहब्बतें इसलिए भी जुदा हो जाती हैं क्योंकि,

11th क्लास पहुँचते ही मैथ्स, बायो और कॉमर्स अलग अलग हो जाते हैं||

नींद तो ठीक ठाक आई पर जैसे ही आँख खुली,
फिर वही ज़िन्दगी और वो पगली याद आई||

माना की तेरी एक आवाज से
भीड हो जाती हे ,,
…..लेकिन हम भी आहिर हे ,,
हमारी एक ललकार से पूरी भीड़
बिखर जाती हे||

इश्क मुहब्बत क्या है? मुझे नही मालूम!
बस तुम्हारी याद आती है… सीधी सी बात है।

“किसी को क्या बताये की कितने मजबूर है हम..

चाहा था सिर्फ एक तुमको और अब तुम से ही दूर है हम।”

मोहब्बत का कोई रंग नही फिर भी वो रंगीन है
प्यार का कोई चेहरा नही फिर भी वो हसीन हैं|

लगता है बारिश को भी…

कब्ज़ हो गयी है…

मौसम बनता है पर आती नहीं||

तेवर तो हम वक्त आने पे दिखायेंगे,
शहेर तुम खरीदलो उस पर हुकुमत हम  चलायेंगे||

ऐसा नहीं की मेरे दिल मे तेरी तस्वीर नहीं थी
पर हाथो मे तेरे नाम की लकीर नहीं थी||

“हम ना बदलेंगे वक्त की रफ़्तार के साथ, हम जब भी मिलेंगे अंदाज पुराना होगा !!

नजर चाहती है दीदार करना दिल चाहता है प्यार करना…”

बादशाह नहीं बाजीगर से पहचानते है लोग ,,
“……क्यूकी…….”
हम रानियो के सामने झुका नहीं करते||

आज भी एक सवाल छिपा है दिल के किसी कोने मैं
की क्या कमी रह गई थी तेरा होने में||

जैसे ही बीवी कहती है सोच रही हूँ मायके हो आऊँ

टिंडे की सब्जी भी पनीर लगने लगती है।।

शेर खुद अपनी ताकत
से राजा केहलाता है;
जंगल मे चुनाव नही होते||

अधूरी मोहब्बत मिली तो नींदें भी रूठ गयी…!

गुमनाम ज़िन्दगी थी तो कितने सकून से सोया करते थे||

सुनो… तुम ही रख लो अपना बना कर.. औरों ने तो छोड़ दिया तुम्हारा समझकर||

अरे कितना झुठ बोलते हो तुम खुश हो और कह रहे हो मोहब्बत भी की है||

खेलने दो उन्हे जब तक जी न भर जाए उनका,
मोहब्बत चार दिन कि थी तो शौक कितने दिन का होगा||

मेरी Girlfriend भी iPhone 7 जैसी है.. अभी तक Launch नहीं हुई||

में बंदूक और गिटार
दोनों चलाना जानता हूं ।
तय तुम्हे करना हे की
आप कौन सी धुन पर नाचोगे..।।

कागज़ों पे लिख कर ज़ाया कर दूं मै वो शख़्स नही वो शायर हुँ जिसे दिलों पे लिखने का हुनर आता है||

वो बड़े ताज्जुब से पूछ बैठा मेरे गम की वजह
फिर हल्का सा मुस्कराया,

और कहा,

मोहब्बत की थी ना||

हे भगवान भले मुझे साउथ के हीरो जैसी ताकत मत दे,

पर उनकी होरोइन जैसी GF दिला दे||

राज तो हमारा हर जगह पे है…।
पसंद करने वालों के “दिल” में ; और
नापसंद करने वालों के “दिमाग” में||

निकली थी बिना नकाब आज वो घर से मौसम का दिल मचला लोगोँ ने भूकम्प कह दिया ||

दिल तो करता है ज़िन्दगी को किसी कातिल के हवाले कर दू
जुदाई मे युं रोज़ रोज़ मरना अब मुझे अच्छा नहीं लगता||

अगर तुम समझ पाते मेरी चाहत की इन्तहा तो हम तुमसे नही तुम हमसे मोहब्बत करते||

शराब और मेरा कई बार ब्रेकअप हो चुका है;

पर कमबख्त हर बार मुझे मना लेती है।

रियासते तो आती जाती रहती हे,
मगर बादशाही करना तो..
आज भी लोग हमसे सीखते हे ।

 नफरत ना करना पगली हमे बुरा लगेगा

बस प्यार से कह देना अब तेरी जरुरत नही है||

बदनाम तो केवल दारु है,

वरना किडनी और लिवर तो मैगी ने ही ख़राब किये हैँ ।

खेल ताश का हो या जिंदगी का ,
अपना इक्का तब ही दिखाना
जब सामने बादशाह हो ।

नरेंद्र मोदी,

पंछी,

नदिया,

पवन के झोंके,

कोई सरहद न इन्हें रोके..

तुम गरदन जुकाने की बात करते हो ,
हम वौ है जो आंख उठाने वालो
की गरदन प्रसाद मै बाट देते है||

 कुछ इसलिये भी ख्वाइशो को मार देता हूँ माँ कहती है घर की जिम्मेदारी है तुझ पर||

जो मेरे बुरे वक्त में मेरे साथ है मे उन्हें वादा करती हूँ मेरा अच्छा वक्त सिर्फ उनके लिए होगा||

ये तो बड़ा मुझ पर अत्याचार हो गया, खामख्वाह मुझे तुझसे प्यार हो गया |

 ये जो छोटे होते है ना दुकानों पर होटलों पर और वर्कशॉप पर दरअसल ये बच्चे अपने घर के बड़े होते है||

शायरी का बादशाह हुं और कलम मेरी रानी,
अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी ।

 मोत से तो दुनिया मरती हैं आशीक तो बस प्यार से ही मर जाता हैं||

जिस दिन वो मेरी सलामती की दुआ करती है…

उस दिन गोल्ड फ्लैक भी जेब में टूट जाती है||

हथियार तो सिर्फ सोंख के लिए रखा करते हे ,
खौफ के लिए तो बस नाम ही काफी हे ।

 बिक रहे हैं ताज महल सड़क-चौराहों पर आज भी,

मोहब्बत साबित करने के लिए बादशाह होना जरुरी नहीं||

Log Kehta Hai Ki Mohabbat Sirf Ek Bar Hoti Hai,
Par Jab Jab Use Dekhu,

Mujhe Bar Bar Hoti Hai.

अकल कितनी भी तेज ह़ो
नसीब के बिना नही जित सकती ,
बिरबल काफी अकलमंद होने के बावजूद..
कभी बादशाह नही बन सका ।

पसंन्द आया तो दिल में ,
नही तो दिमाग में भी नही ।

Maine Bhi Badal Diya Hai Zindagi Ke Usul.

Ab Jo Yaad Karega Vo Hi Yaad Rahega.

जिंदगीमें बडी शिद्दत से निभाओ
अपना किरदार,
कि परदा गिरने के बाद भी तालीयाँ
बजती रहे||

Raaz Khol Dete Hain Nazuk Se Ishaare Aksar..

Kitni Khamosh Mohabbat Ki Zubaan Hoti Hai..

गिन लेती है दिन बगैर मेरे गुजारें हैं कितने भला कैसे कह दूं कि माँ अनपढ़ है मेरी||

वो शाम का दायरा मिटने नहीं देते ,

हमसे सुबहे का इंतज़ार होता नहीं है ।

Hum Alfazon Ke Intezar Mein The,
Unhone Khamoshi Se Vaar Kar Diya||

धोखा देती है अक्सर मासूम चेहरे की चमक।।

क्योंकि हर पत्थर हीरा नहीं होता।।

जान लेने पे तुले हे दोनो मेरी..

इश्क हार नही मानता..

दिल बात नही मानता||

 लोग ढूँढेंगे हमें भी,

हाँ मगर सदियों के बाद।

हर कोई पूछता है,

करते क्या हो तुम

जेसे मोहब्बत कोई काम ही नही||

अजीब खेल है इस मोहब्बत का,

किसी को हम न मिले और न कोई हमे मिला।

Kaash Tum Mout Hoti,
Toh Ek Din Jaroor Meri Hoti,

 वो अपनी मर्जी से बात करते हैँ और हम कितने पागल हैँ जो उनकी मर्जी का इंतजार करते हैं||

हज़ार बार ली है तुमने तलाशी मेरे दिल की,

बताओ कभी कुछ मिला है इसमें प्यार के सिवा||

सुना है आज उनकी आँखों आँशु आ गए।

वो बच्चों को लिखना सिखा रही थी..

कि मोहब्बत ऐसे लिखते है।

Garmi Toh Bahut Padh Rahi Hai,

Par Unka Dil Pighalne Ka Naam Nahi Le Raha||

 अजीब रंगो में गुजरी है मेरी जिंदगी।

दिलों पर राज़ किया पर मोहब्बत को तरस गए।

अगर हम सुधर गए तो उनका क्या होगा जिनको हमारे पागलपन से प्यार है||

उन्होंने वक़्त समझकर गुज़ार दिया हमको..

और हम..

उनको ज़िन्दगी समझकर आज भी जी रहे हैं..!!

Fikr Toh Teri Aaj Bhi Karte Hain,
Bas Jikr Karne Ka Hak Nahi Raha!!

कभी टूटा नहीं दिल से तेरी याद का रिश्ता,

गुफ्तगू हो न हो ख्याल तेरा ही रहता है||

 “मोह्ब्बत किसी ऐसे शख्स की तलाश,

नही करती जिसके साथ रहा जाये,

मोह्ब्बत तो ऐसे शख्स की तलाश,

करती हे जिसके बगेर रहा न जाये !!”

Auron Se Toh Umeed Ka Rishta Bhi Nahi Tha
Tum Itne Badal Jaoge Socha Bi Nai Tha||

“जब भी वो सामने आती है,

दिल मिल्खा सिंह जुबान मनमोहन सिंह  और ख़याल इमरान हाशमी हो जाते हैं..!”

Hum Wo Dard Hain Jo Ankho Se Jhalakte Hain.

. “सूखे गुलाब की पत्तियों की तरह हम शायद आहीस्ता आहीस्ता गिर रहे है आप की किताबों से…!”

Kuch Rishton Ke Liye Pyar Kabhi Kam Nahi Hota.

“प्यार तो उसी दिन से है जब 6th Class में उसने पीछे मुड़कर मुस्कुराते हुए पूछा.. कि कल क्योंनहीं आए थे??

Hath Unka Chu Jaye Humare Chehre Ko
Isi Umeed Mein Hum khud ko Rulate Hain.

Shayad Chupke Se Rona Bhi Zindagi Hai.

“वो कहते हैं मुझसे कोई और बात करो,

लाऊँ कहाँ से बात अब उनकी बात के सिवा!”

Khud Hi De Jaoge Toh Behtar Hai,
Warna Hum Dil Chura Bhi Lete Hain..!

“वो आतें हैं तो दिल में कुछ कसक मालूम होती है,

मैं डरता हूँ कहीं इसको मुहब्बत तो नहीं कहते..!!”

Jane Duniya Mein Aisa Kyun Hota Hai..
Jo Sab Ko Khushi De Wahi Rota Hai||

“आधा चेहरा ज़ुल्फ़ों से ढका हुआ था हमे दीवाना बनाने के लिए उतना हि काफी था.!”

Bada Azeeb Sa Rishta Hai Apna
Tu Mera Sab Kuch,

Aur Main Tera Kuch Bhi Nahi||

“है ना “गलतफहमियाँ मुझ में बहुत क्यूंकि जब भी “तुझे समझा, अपना हि समझा !”

Tum मिले या ना मिले ये तो और बात है,

मैं कोशिश भी ना करूँ,

ये तो गलत बात  है||

खुशीयाँ तकदीर में होनी चाहिये,

तस्वीर मे तो हर कोई मुस्कुराता है||

Meri Zindgi Bigaad Di Tumne..

Apne Lamhe Sanwarne Ki Liye||

“धडकनों को कुछ तो काबू में कर ए दिल अभी तो पलकें झुकाई है मुस्कुराना अभी बाकी है उनका.”

Tujhe Koi Aur Bhi Chahe,

Is Baat Se Dil Thoda Jalta Hai,
Par Fakar Hai Mujhe,

Meri Pasand Pe Bhi Koi Marta Hai.

मुझे बर्बाद करना चाहते हो तो, मुझसे मोहब्बत कर लो||

Suna Hai Tum Jiddi Bahut Ho,
Mujhe Bhi Apni Jid Bana Lo.

हम तो पागल हैं शौक़-ए-शायरी के नाम पर ही दिल की बात कह जाते हैं और कई इन्सान गीता पर हाथ रख कर भी सच नहीं कह पाते है||

Sachhe Pyaar Ki Koi Expiration Date Nahi Hoti||

जिंदगी में वही लोग कामयाबी के शिखर को छुते है…

जो बचपन में साइकिल की चैन उतरते ही तुरंत उल्टा पैडल मारकर चढ़ा लिया करते थे||

Hume Tumse Pyar Kitna,

Yeh Hum Nahi Jante,

Magar Jee Nahi Sakte Tumhare Binaa||

सिर्फ तूने ही कभी मुझको अपना न समझा,

जमाना तो आज भी मुझे तेरा दीवाना कहता है||

न जाने क्या मासूमियत है तेरे चेहरे पर..

तेरे सामने आने से ज़्यादा तुझे छुपकर देखना अच्छा लगता है||

जी भर गया है तो बता दो
हमें इनकार पसंद है इंतजार नही||

सुना है तुम ज़िद्दी बहुत हो,

मुझे भी अपनी जिद्द बना लो||

Jiski Saza Ho Tum,

Ai Khuda Aisa Koi Gunah Kara De.

होंठ मिला दिए उसने मेरे होंठो से यह कह कर अगर शराब छोड़ दोंगे तो ये जाम रोज मिलेगा||

Itna Mat Sataya Kar Ki Raat Tak Na So Sake Hum.

जो इंसान प्रेम मेँ निष्फल होता है,

वो जिदगी मे सफल होता है||

“आज भी अजीज है मुझे तेरी हर निशानी चाहे वो दिल का दर्द हो या आँखों का पानी”

ज़िंदगी भी विडियो गेम सी हो गयी है,

साला एक लैवल क्रॉस करो तो अगला लैवल और मुश्किल आ जाता हैं||

हुए बदनाम मगर फिर भी न सुधर पाए हम,

फिर वही शायरी,

फिर वही इश्क,

फिर वही तुम||

ज़िंदगी भी विडियो गेम सी हो गयी है,

साला एक लैवल क्रॉस करो तो अगला लैवल और मुश्किल आ जाता हैं||

“मत पूछो कि मै अल्फाज कहाँ से लाता हूँ,

ये उसकी यादों का खजाना है,

बस लुटाये जा रहा हूँ!”

मेरे दोस्त केहते हैं तुम्हारे सब #Status एक नंबर रेहते हैं मैने कहा २ नंबर के काम मैने कभी किया ही नहीं|

“ये जो खामोश से अल्फाज़ लिखेे हैं ना,

पढना कभी ध्यान से चीखते कमाल हैं |”

Jitna Tera Dimag Chalta H ,

Utna Toh Mera Kharab Hota Hai.

वो कहते है कि हमे मोहब्बत है आपसे हमने भी कह दिया जा झूठी प्यार का पंचनामा -2 देखी है हमने

“मुददत बाद मिले हम और उसने कहा तुझे भूल जाना चाहती हूँ मैं आंसू आ गए मेरी आंखों में ये सोचकर कि इसे अब तक याद हूं मैं||

बोला था ना मुझे “Block” मत कर….

देख तेरी “Friend” मेरे “Love” में फंस गई||

जिंदगी मै सिर्फ़ दो ही नशा करना,

जीने के लिए यार और मरने के लीये प्यार||

” बात ” उन्हीं की होती है,

जिनमें कोई ” बात ” होती है..

कुछ लोग मुझे अपना कहा करते थे.. सच कहूँ तो वो सिर्फ कहा करते थे..

बात इतनी सी थी, कि तुम अच्छे लगते थे||

अब बात इतनी बढ़ गई कि तुम बिन कुछ अच्छा नहीं लगता||

Tum Kisi Or Se LOVE Kar Lo Hame Sudharne Mai Time Lagega… 😛

 “मुस्कुरा देता हूँ अक्सर देखकर पुराने MSG तेरे, तू झूठ भी कितनी सच्चाई से लिखती थी ..!

Dard Dilo Ke Kum Ho Jate,

Mein Aur Tum Agar Hum Ho Jate…

बख्त कुछ थमा थमा सा है शायद कोई तूफान आने को हे…

Khud Hi De Jaoge To Behtar Hai,
Warna Hum Dil Churana Bhi Jaante Hai||

तुम अच्छे हो तो बन के दिखाओ,

हम बुरे है तो साबित करो||

Per Mai Moch And Slow Internet Connection Aadmi Ko Kabhi Aage Badne Nahi Dete.

Mere Bare Mein Itna Mat Sochna,
Dil Mein Aata Hun,

Samajh Mein Nahi.

Zindagi

“Rude”

Hai Toh Kya Hua,

Hum Bhi

“Dude”

Hai.

Jo Mein Rooth Jau Toh Tum Mana Lena,
Kuch Mat Kehna Bas Sine Se Laga Lena.

Bhaw Hum Dete Nahi,

Aut Akkad Hum Sehte Nahi.

काश !! OLX पे उदासी और अकेलापन भी बेचा जा सकता||

36 Ayengi,

36 Jayengi,

But Meri Wali Toh Meri Mummi Hi Layegi.

हम नवाब इस लिए है क्यों की हम लोगो पे नहीं लोगो के दिलो पे राज करते है…

Jaha Sach Na Chale,

Waha Jhooth Hi Sahi,

Jaha Hak Na Mile Waha Loot Hi Sahi||

भूख रिश्तों को भी लगती है..

प्यार परोस कर तो देखिये..!

कल ही तो तौबा की मैंने शराब से..

कम्बख्त मौसम आज फिर बेईमान हो गया।।


Bhukh Rishton Ko Bhi Lagti Hai..

Pyar Paros Kar Toh Deakhiye…

Kal Hi Toh Tauba Ki Maine Sarab Se…

Kambakht Mausam Aaj Fir Beiman Ho Gaya!!

वो कहने लगी नकाब में भी पहचान लेते हो…

हजारों के बीच…

मेंने मुस्करा के कहा तेरी आँखों से ही शुरू हुआ था

“इश्क”

हज़ारों के बीच…


Wo Kahane Lagi Nakab Me Bhi Pahachan Lete Ho….

Hasaro K Beech….

Maine Mushkura Ke Kaha Tere Aankho Se Hi Suru Hua Tha,

“Ishq”

Hasaro K Beech!!

सुनो !

तुम कर लो नजरंदाज अपने हिसाब से…

हम तो मोहब्बत बेहिसाब ही करेंगे…..


Suno !

Tum Kar Lo Najarandaj Apne Hisab Se….

Hum Toh Mohabbat Behisab Hi Karenge!!

वो खुद पर गरूर करते है,

तो इसमें हैरत की कोई बात नहीं,

जिन्हें हम चाहते है,

वो आम हो ही नहीं सकते !!


Wo Khud Par Garur Karte Hai,

Toh Ishme  Hairan Ki Koi Baat Nahi,

Jinhe Hum Chahte Hai,

Wo Aam Ho Hi Nahi Sakte!!

मरने के लिए वजह बहोत सारी हैं…

जीने के लिए सिर्फ

“तू ”


Marne K Liye Vajah Bahut Saari Hai

Jeene K Liye Sirf

“Tu”

तुझे कोई और भी चाहे,
इस बात से दिल थोडा थोडा जलता है,
पर फखर है मुझे इस बात पे कि,
हर कोई मेरी पसंद पे ही मरता है |


Tujhe Koi Aur Bhi Chahe,

Iss Baat Se Dil Thoda -Thoda Jalta Hai,

Par Fakar Hai Mujhe Iss Baat Pe Ki,

Har Koi Meri Pasand Pe Hi Marta Hai!!

हर स्त्री,

पुरुष के साथ बराबरी चाहती है,

मगर इस शर्त के साथ कि चूहे,

छिपकली और कॉकरोच के साथ पुरुष अकेले ही निपटेगा !


Har Ishtari,

Purush Ke Sath Barabari Chahati Hai,

Magar Is Sharat Ke Sath Ki Chuhe,

Chipakali Aur Kakroach Ke Sath Purush Akele Hi Nipatega!!

खुद ही दे जाओगे तो बेहतर है..!

वरना हम दिल चुरा भी लेते हैं..!


Khud Hi De Jaaoge Toh Behatar Hai…

Warna Hum Dil Chura Bhi Lete Hai!!

बोला था ना मुझे block मत कर….

देख तेरी friend मेरे love में फंस गई.


Bola Tha Na Mujhe Block Mat Kar…

Deakh Teri Friend Mere Love Me Fas Gayi….

कौन कहता है क़ि चाँद तारे तोड़ लाना ज़रूरी है…..

दिल को छू जाए प्यार से दो लफ्ज़,

वही काफ़ी है…!!


Kaun Kahata Hai Chand Taare Todh Lana Jaruri Hai…

Dil Ko Chu Jaye Pyar Se 2 Lafaj,

Wahi Kaafi Hai!!

अपनी दोस्ती का बस इतना सा असूल है,

जो तू कुबूल है….

तो तेरा सब कुछ कुबूल है…


Apani Dosti Ka Bas Itana Sa Asool Hai,

Jo Tu Kabul Hai….

Toh Tere Sab Kuch Kabul Hai…

क्या ज़रूरत थी दूर जाने की,

पास रहकर भी तो तड़पा सकते थे…


Kya Jarurat Thi Dur Jaane Ki,

Paas Rahkar Bhi Toh Tadpa Sakte The!!

मिल सके आसानी से ,

उसकी ख्वाहिश किसे है?

ज़िद तो उसकी है …

जो मुकद्दर में लिखा ही नहीं…


Mil Sake Aasani Se,

Uski Khawaish Kise Hai??

Jidh Toh Uski Hai…

Jo Mukadar Me Likha Hi Nahi!!!

तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना,

हम ‘जान’ दे देते हैं मगर ‘जाने’ नहीं देते !!


Tum Jindagi Me Aa Toh Gaye Ho Magar Khayal Rakhna,

Hum “Jaan” De DEte Magar Jaan Nahi Dete!!

जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन क्यूंकि एक मुद्दत से मैंने न मोहब्बत बदली और न दोस्त बदले .!!.


Jal Jaate Hai Mere Aandaaj Se Mere Dushman Kyu ki Ek Muddat Se Maine NA Mohabbat Badali Aur Na Dost Badale!!!

बर्बाद होगा ये गरीब दोनों पहलूँ में
मेरे कच्चे घर पर तुम बरसात की तरह मिला करों !


Barabaad Hoga Ye Garib Dono Pahalu Me!!

Mere Kachche Ghar Par Tum Barsaat Ki Tarah Mila Karo!!

सिर्फ तूने ही कभी मुझको अपना न समझा,

जमाना तो आज भी मुझे तेरा दीवाना कहता है!


Sirf Tune Hi Kabhi Mujhko Apna Na Samjha,

Jamana Toh Aaj Bhi Mujhe Tere Diwana Kahata Hai!!

मेरे बारे में इतना मत सोचना ,

दिल में आता हूँ ,

समज में नही ।


Mere Baare Me Itana Mat Sochna,Dil Me Aata Hu,

Samjh Me Nahi!!

मेरा वजूद नहीं किसी तलवार और तख़्त ओ ताज का मोहताज,

में अपने हुनर और होंठो की हंसी से लोगो के दिल पे राज करता हैं….


Mere Wajood Nahi Kisi Talvaar  Aur  Takhat Oo Taj Ka Mohtaj,

Mai Apnae Hunar Aur Hotho Ki Hashi Se Logo Ke Dil Pe Raaj Karta Hu!!

हक़ीक़त ना सही तुम ख़्वाब की तरह मिला करों
भटके हुएँ मुसाफिर को चांदनी रात की तरह मिला करो !


Hakikat Na Sahi Tum Khawab Ki Tarah Mila Karo

Bhatake Hue Musafir Ko Chandani Raat Ki Tarah Mila Karo!!

जो मैं रूठ जाऊँ तो तुम मना लेना,

कुछ न कहना बस सीने से लगा लेना।


Jo Mai Ruth Jao Toh Tum Mana Lena,

Kuch Na Kahana Bas Seene Se Laga Lena!!

आज का विचार: अगर परछाईयाँ कद से और बातें औकात से बड़ी होने लगे तो समझ लीजिये कि सूरज डूबने ही वाला है..!


Aaj Ka Vichar: Agar Parchaiyaan Kadh Se Aur Batein Aukat Se Badi Hone Lage Toh Samajh Lijiye Ki Suraj Dubane Hi Wala Hai!!

दीवानगी मे कुछ एसा कर जाएंगे।
महोब्बत की सारी हदे पार कर जाएंगे।
वादा है तुमसे, दिल बनकर तुम धड़कोगे
और सांस बनकर हम आएँगे।।


Diwaangi Me Kuch Aisa Kar Jaayenge!

Mohabaat Ki Saari Haade Paar Kar Jaayenge!!

Wada Hai Tumse, Dil Bankar Tum Dhadhkoge,

Aur Saas Bankar Hum Aayenge!!

दुकानें उसकी भी लुट जाती है अक्सर हमने देखा है…!

जो दिन भर में न जाने कितने ताले बेच देता है…!!


Dukaane Uski Bhi Lut Jaati Hai Aksar Humne Deakha Hai!

Jo Din Bhar Me Na Jaane Kitne Taale Bech Deta Hai!!

कल ही तो तौबा की मैंने शराब से..

कम्बख्त मौसम आज फिर बेईमान हो गया।


Kal Hi Toh Tauba Ki Maine Sarab Se..

Kambakhth Mausam Aaj Fir Beiman Ho Gaya !!

कोई ना दे हमें खुश रहने की दुआ,

तो भी कोई बात नहीं वैसे भी हम खुशियाँ रखते नहीं,

बाँट दिया करते है…!!!


Koi Na De Hume Khush Rahne Ki Dua,

To Bhi Koi Baat Nahi Waise Bhi Hum Khushiya Rakhte Nahi,

Baant Diya Karte Hai!!

तेरे साथ भी तेरा था…

तेरे बिन भी तेरा ही हूँ…


Tere Saath Bhi Tera Tha..

Tere Bin Bhi Tera Hi Hu!!

धडकनों को कुछ तो काबू में कर ए दिल
अभी तो पलकें झुकाई है मुस्कुराना अभी बाकी है उनका!!


Dhadkano Ko Kuch Toh Kaabu Me Kar- E- Dil,

Abhi Toh Palakhe Jhukai Hai Mushkurana Abhi Baki Hai Unka!!

इतनी मनमानीयां भी अच्छी नही होती,

तुम सिर्फ अपने ही नहीं मेरे भी हो|


Itani Manmaaniyan Bhi Achchi Nahi Hoti,

Tum Sirf Apne Hi Nahi Mere Bhi Ho!!

कोई ना दे हमें खुश रहने की दुआ,

तो भी कोई बात नहीं वैसे भी हम खुशियाँ रखते नहीं,

बाँट दिया करते है…!!!


Koi Na De Hume Khush Rahne Ki Dua,

Toh Bhi Koi Baat Nahi Waise Bhi Hum Khushiya Rakhte Nahi,

Baant Diya Karte Hai!!

खुद ही दे जाओगे तो बेहतर है..!
वरना हम दिल चुरा भी लेते हैं..!


Khud Hi De Jaaouge Toh Behatar Hai!!

Warna Hum Dil Chura Bhi Lete Hai!!

मैंने तो देखा था बस एक नजर के खातिर,

क्या खबर थी की रग रग में समां जाओगे तुम||


Maine Toh Deakha Tha Bas Ek Najar K Khatir,

Kya Khabar Thi Ki Raang Raang Me Sama Jaouge Tum!!

कैसे बनेगा अमीर वो हिसाब का कच्चा बूढा भिखारी,

जो बस एक रुपये के बदले सिग्नल पे खड़ा बेशकीमती दुआए दे देता है।


Kaise Banega Aamir Wo Hisaab Ka Kachcha Budha Bhikari,

Jo Bas Ek Rupee Ke Badale Signal Pe Khada Beshkimati Duaye De Deta Hai!!

एक तो सुकुन और एक तुम,कहाँ रहते हो आजकल मिलते ही नही|


Ek Toh Sakoon Aur Ek Tum ,

Kaha Rahte Ho Aajkal Milte Nahi !!

छुपा लूंगा तुझे इसतरह से बाहों में;

हवा भी गुज़रने के लिए इज़ाज़त मांगे;

हो जाऊं तेरे इश्क़ में मदहोश इस तरह;

कि होश भी वापस आने के इज़ाज़त मांगे|

Chupa Lunga Tujhe Ishtarah Se Baho Me,

Hawa Bhi Gujarne Ke Liye Ijajat Maange!

Ho Jaao Tere Ishq Me Madhosh Ish Tarah,

Ki Hosh Bhi Wapas Aane Ke Ijajat Maang!!

मेरी ज़िन्दगी के “तालिबान” हो तुम…

बेमक़सद तबाही मचा रखी है||

Meri Jindagi Ke “Taalibaan” Ho Tum,

Be Makshad Tabahi Macha Rahi Hai!!

ऐसा जीवन जियो कि अगर कोई आपकी बुराई भी करे तो कोई उस पर विश्वास ना करे।


Aisa Jivan Jiyo Ki Agar Koi Aapki Burai Bhi Kare Toh Koi Us Par Vishvash Na Kare!!

मेरे बारे में इतना मत सोचना ,
दिल में आता हूँ ,

समज में नही ।


Mere Baare Me Itana Mat Sochna,

Dil Me Aata Hu,

Samay Me Nahi!!

हुकुमत वो ही करता है जिसका दिलो पर राज हो…!!

वरना यूँ तो गली के मुर्गो के सर पे भी ताज होता है…!!


Hukumat Wo Hi Karta Hai Jiska Dilo Par Raaj Ho!!

Werna Yun Toh Gali Ke Murgo Ke Sar Pe Bhi Taj Hota Hai!!

कोई मुक़दमा ही कर दो हमारे सनम पर,

कम से कम हर पेशी पर दीदार तो हो जायेगा|


Koi Mukadma Hi  Kar Do Humare Sanam Par,

Kam Se Kam Har Peshi Par Didaar Toh Ho Jayenge !!

धड़कनों को भी रास्ता दे दीजिये हुजूर,

आप तो पूरे दिल पर कब्जा किये बैठे है|


Dhadakano Ko Bhi Rashta De Dijiye Hasoor,

Aap Toh Pure Dil Par Kabja Kiye Baithe Hai!!

खोने की दहशत और पाने की चाहत न होती,

तो ना ख़ुदा होता कोई और न इबादत होती  |


Khone Ki Dahshat Aur Paane Ki Chahta Na Hoti,

Toh Na Khuda Hota Koi Aur Na Ibadat Hoti!!

मोहब्बत किससे और कब हो जाये अदांजा नहीं होता ये वो घर है,

जिसका दरवाजा नहीं होता||


Mohabbat Kisse Aur Kab Ho Jaaye Aandaja Nahi Hota Ye Wo Ghar Hai,

Jiska Darwaja Nahi Hota!!

जरूरत और चाहत में बहुत फ़र्क है…

कमबख्त़ इसमे तालमेल बिठाते बिठाते ज़िन्दगी गुज़र जाती है !!!!


Jarurat Aur Chahat Me Bahut Fakar Hai!!

Kambakht Ishme Taal Male Bithate Jindagi Gujar Jaati Hai!!

तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना,
हम ‘जान’ दे देते हैं मगर ‘जाने’ नहीं देते !!


Tum Jindagi Me Aa Toh Gaye Ho Magar Khayal Rakhna,

Hum “Jaan” De Dete Hai Magar “Jaan”Nahi Dete!!

उनकी चाल ही काफी थी इस दिल के होश उड़ाने के लिए, …

अब तो हद हो गई जब से वो पाँव में पायल पहनने लगे…


Unki Chaal Hi Kaafi Thi Ish Dil Ke  Hosh Udhane Ke Liye!!

Ab Toh Had Ho Gayi Jab Se Wo Paao Me Payal Pahanane Lage!!

👉‪तेरे‬ 👧सिवा कौन ‎समा‬💏 सकता है ‎मेरे‬ ❤दिल में,…….‪रूह‬ 🙇भी गिरवी👍 रख दी है मैंने 👨👈‎तेरी‬ 👧चाहत में !!💐


Tere Siwa Kaun Sama Sakta Hai Mere Dil Me,

Ruh Bhi Ghirwi Rakh Di Hai Maine Tere Chahat Me!!

इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है,

इश्क मेरी रुह,

तो दोस्ती मेरा ईमान है,

इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी,

पर दोस्ती पर,

मेरा इश्क भी कुर्बान है||


Ishq Aur Dosti Mere Do Jahan Hai,

Ishq Meri Ruh,

Toh Dosti Mera Imaan Hai,

Ishq Par Toh Fida Kardu Apni Puri Jindagi,

Par Dosti Par,

Mera Ishq Bhi Kurban Hai!!

वो खुद पर गरूर करते है,

तो इसमें हैरत की कोई बात नहीं,

जिन्हें हम चाहते है,

वो आम हो ही नहीं सकते !!


Wo Khud Par Garur Karte Hai,

Toh Isme Hairat  Ki Koi Baat Nahi,

Jinhe Hum Chahate Hai,

Wo Aam Ho Hi Nahi Sakte!!!

सुन पगले 👦 ‪‎स्टाईल‬ 😎 तो में 👩 ‪सिर्फ_शोक‬ ☝ के लिए करती हूँ, 😌 वरना ‪ज़माने‬ 👫 के लिए तो मेरी ‪‎नशीली_आँखो‬ 👀

के ‪‎इशारे‬ ☝ ही काफी है ।।


Sun Pagale Style Toh Me Sirf _Soak Ke Liye Karti Hu, Warna Jamane Ke Liye Toh Meri Nashili _Aankho Ke Ishare Hi Kaafi Hai!!!

 मुकद्दर में लिखा के लाये हैं दर-ब-दर भटकना..

मौसम कोई भी हो परिंदे परेशान ही रहते हैं…


Mukadar Me Likha Ke Laaye Hai Dar- B- Dar Bhatakana!!!

Mausam Koi Bhi Ho Parinde Paresaan Hi Rahte Hai!!!

आज‬ ☝ ‪दरगाह में‬ 🕌 ‪मन्नत‬ 😍 का ‪‎धागा नहीं‬,

😌 ‪अपना दिल‬ 👦❤ ‪‎बाँध‬ ☝ के ‪आया‬ 👦 हूँ ‪तेरे लिए‬ ।।


Aaj Dargah Me Mannant ❤Ka Dhaaga Nahi,

Apna Dil Bandh❤ K Aaya Hu Tere Liye!!

 मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे,
अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती ।


Mahobaat Hai Meri Ishliye Dur Hai Mujhse,

Agar Jidd Hoti Toh Sayam Tak Baaho Me Hoti!!

मैनें तो सिर्फ उसका दिल चोरी किया था लेकिन,

अब तो वो पगली मेरा सरनेम चोरी करने की प्लानिंग में है !!


Maine Toh Sirf Uska Dil Chori Kiya Tha Lekin,

Ab Toh Wo Pagali Mera Surname Chori Karne Ki Planning Me Hai!!

वो भी आधी रात को निकलता है और मैं भी ……

फिर क्यों उसे “चाँद” और मुझे “आवारा” कहते हैं लोग …. ?


Wo Bhi Aadhi Raat Ko Nikalna Hai Aur Mai Bhi..

Fir Kyu Usse “Chand” Aur Mujhe “Aawara” Kahate Hai Log!!

काश दिल की आवाज़ मे इतना असर हो जाए,
की हम जिसे याद करें उसे खबर हो जाए,
आज रब से यही दुआ है मेरी ,
कि आप जिसे चाहें वो आप का हमसफ़र हो जाए..


Kash Dil Ki Aawaj Me Itana Asar Ho Jaye,

Ki Hum Jise Yaad Kare Usse Khabar Ho Jaye,

Aaj Rab Se Yahi Dua Hai Meri,

Ki Aap Jise Chahe Wo Aap Ka Humsafar Ho Jaye!!!

कुछ तो बात होगी उस पगली में 😍 जो मेरा दिल 👉💜 उसपे आ गया था |

😌 वरना में तो इतना सेल्फिश हु 😜👉🏻की अपने जीने की भी दुआ नही करता|


Kuch Toh Baat Hogi Uss Pagali Me Jo Mera Dil Usspe Aa Gaya Tha,

Werna Mai Toh Itana Selfish Hu Ki Apne Jine Ki Bhi Dua Nahi Karta!!

उसके हाथ की गिरिफ्त ढीली पड़ी तो महसूस हुआ यही वो जगह है जहाँ रास्ता बदलना है…


Uske Hath Ki Giraft Dhili Padi Toh Mahsush Hua Yahi Wo Jagah Hai Jaha Rashta Badalna Hai!!

दिल की ज़ुबान वो समझ नहीं पाते,
होठों से हम कुछ कह नहीं पाते,
अपनी बेबसी हम किस तरह कहें,
कोई है जिस के बिना हम रह नही पाते||


Dil Ki Juban Wo Smjh Nahi Paate,

Hotho Se Hum Kuch Kah Nahi Paate,

Apani Bebashi Hum Kis Tarah Kahe,

Koi Hai Jis K Bina Hum Rah Nahi Paate!!

देख पगली मुझे यूँ  What‬’s App ‪Instagram‬,

‪Hike‬ और ‪‎Facebook‬ पर मत तलाश किया करो…

हम तो हमेशा 👩तुम्हारे ❤दिल में

“On Line” रहते है||


Deakh Pagali Mujhe Yun What’s App, Instagram,

Hike Aur Facebook Par Mat Talash Kiya Karo,

Hum Toh Hamesha Tumhare Dil Me

“Online” Rahte Hai!!

सूरज सितारे चाँद मेरे साथ मेँ रहे जब तक तुम्हारे हाथ मेरे हाथ में रहे शाख़ों से टूट जाये वो पत्ते नहीं हम आँधी से कोई कह दे कि औक़ात में रहे||


Suraj Sitare Chand Mere Sath Me Rahe Jab Tak Tumhare Hath Mere Haath Me Rahe Saakho Se Tut Jaaye Wo Patate Nahi Hum Aandhi Se Koi Kah De Ki Aukat Me Rahe!!

ए खुदा मेरे रिश्ते मे कुछ ऐसी बात हो,
मैं सोचूँ उस को ओर वो मेरे पास हो,
मेरी सारी खुशी मिल जाए उस को,
एक लम्हे को भी अगर वो उदास हो||


E Khuda Mere Rishte Me Kuch Aisi Baat Ho,

Mai Sochu Us Ko Aur Wo Mere Pass Ho,

Meri Saari Khushi Mil Jaaye Uss Ko,

Ek Lamhe Ko Bhi Agar Wo Udash Ho!!

कौन कहता है क़ि चाँद तारे तोड़ लाना ज़रूरी है…..

दिल को छू जाए प्यार से दो लफ्ज़, वही काफ़ी है…!!


Kaun Kahta Hai Ki Chand Taare Todh Lana Jaruri Hai!!!

Dil Ko Chu Jaye Pyar Se Dou Lafj, Wahi Kaafi Hai!!

सूखे होंटों पे ही होती हैं मीठी बातें प्यास जब बुझ जाये तो लहजे बदल जाते हैं …..!!


Sukhe Hoato Pe Hi Hoti Hai Meethi Baatein Payash Jab Bujh Jaaye Toh Lahaje Badal Jaate Hai!!!

ज़रूरी नही आपस मे बात होती रहे
ज़रूरी नही की रोज़ मुलाकात होती रहे
ज़रूरी है बस इतना की आप जहाँ भी रहें
बस हमारी कमी का एहसास आपको होता रहे.


Zaruri Nahi Aapas Me Baat Hoti Rahe
Zaruri Nahi Ki Roz Mulakat Hoti Rahe
Zaruri Hai Bas Itna Ki Aap Jahan Bhi Rahen
Bas Hamari Kami Ka Ehsas Aapko Hota Rahe.

दुनियाँ में इतनी रस्में क्यों हैं,

प्यार अगर ज़िंदगी है तो इसमें कसमें क्यों हैं,

हमें बताता क्यों नहीं ये राज़ कोई,

दिल अगर अपना है तो किसी और के बस में क्यों है||


Duniya Me Itani Rashme Kyu Hai,

Pyar Agar Jindagi Hai Toh Ishme Kashame Kyu Hai,

Hume Batata Kyu Nahi Ye Raaj Kyu,

Dil Agar Apna Hai Toh Kisi Aur K Bas Me Kyu Hai!!!!

किसी दिन हम गुजरा हुआ कल बन जाएँगे
पहले हर रोज़ किसी को
फिर कभी-कभी किसी को,
फिर कभी ना कभी किसी को याद आएँगे||


Kisi Din Hum Gujra Hua Kal Ban Jayenge
Pehle Har Roz Kisi Ko
Phir Kabhi-Kabhi Kisi Ko,
Fir Kabhi Na Kabhi Kisi Ko Yaad Ayenge!!

उनकी चाहत में हम कुछ यूँ बंधे हैं कि वो साथ भी नहीं और हम अकेले भी नहीं…!


Unki Chahat Me Hum Kuch Yun Bandhe Hai Ki Wo Sath Bhi Nahi Aur Hum Akele Bhi Nahi!!

चलता ही रहुँगा सदा पथ पर अपने, चलने में माहिर बन जाऊँगा
या तो मंजिल मिलेगी, या फिर एक अच्छा मुसाफिर बन जाऊँगा||


Chalta Hi Rahunga Sada Path Par Apne,

Chalne Me Maahir Ban Jaaounga,

Yaa Toh Manjil Milegi, Yaa Fir Ek Achcha Musafir Ban Jaaounga!!

तू नाराज न रहा कर तुझे वास्ता है खुदा का…

एक तेरा ही चेहरा खुश देख कर तो मैं अपना गम भुलाता हूँ।


Tu Naaraj Na Raha Kar Tujhe Wasta Hai Khuda Ka !!!

Ek Tera Hi Chehra Khush Deakh Kar Toh Mai Apna Gum Bhulata Hu!!

वो किताबो में दर्ज था ही नही
जो पढ़ाया सबक जमाने ने…..


Wo Kitabo Me Darj Tha Hi Nahi

Jo Padhaya Sabak Jamane Ne!!!

ज़िन्दगी प्यारी और बहुत प्यारी है पर सिर्फ तब तक जब तक मैं तेरा और तूँ सिर्फ मेरी है।


Jindagi Pyari Aur Bahut Pyari Hai Par Sirf Tab Tak Jab Tak Mai Tera Aur Tu Sirf Meri Hai !!

दुनिया का सबसे मुश्किल काम

“अपनों” में से “अपनों” को खोजना||


Duniya Ka Sabse Mushkil Kaam

Aapno Me SE Aapno Ko Khojana!!

तुम्हारे हँसने की वजह बनना चाहता हूँ ,

बस इतना हैं तुमसे कहना||


Tumhare Hashne Ki Wajah Banana Chahta Hu,

Bas Itana Hai Tumse Kahana!!

 हमसे हमारी उम्र ना पूछना ए दोस्तो,
हम तो इश्क़ हैं, हमेशा ही जवां रहते हैं||


Humse Humari Umar Na Puchna-E-Doston,

Hum Toh Ishq Hai, Hamesha Hi Jawa Rahte Hai!!

लेकर के मेरा नाम मुझे कोसती तो है …

नफरत में ही सही पर मुझे सोचती तो है…


Lekar K Mera Naam Mujhe Koshti Toh Hai!!

Nafrat Me Hi Sahi Par Mujh Sochti Toh Hai!!

सालो बाद मिले थे, हम एक दूसरे से
उसकी गाडी बड़ी थी और मेरी दाढ़ी…।


Saalo Baad Mile The,

Hum Ek Dushare Se,

Uski Gaadi Badi Thi Aur Mere Daadi||

जाने क्या कशिश है उसकी मदहोंश आँखों में,

नजर अंदाज जितना करो …

नज़र उस पे ही पड़ती है….


Jaane Kya Kashish Hai Uski Madhosh Aankho Me,

Najar Andaaj Jitna Karo ..

Najar Uss Pe Hi Padati Hai!!!!

‪सुन‬👂पगली 👰 तेरा दिल ❤भी धड़केगा…

तेरी आँख 👀 भी फड़केगी….

अपनी ऐसी ‪आदत डालूँगा ‬…

के हर पल ‪‎मुझसे मिलने‬ के लिये ‪तड़पेगी‬..


Sun Pagali Tera Dil Bhi Dhadkega…

Teri Aankh Bhi Fadkegi…

Apni Aisi Aadat Dalunga…

K Har Pal Mujhse Milne K Liye Tadpegi!!

कहते है की..,

“दुआ कुबूल होने का भी एक वक़्त होता हैं……..”
पर मैं हैरान हु की मेने उसे किस वक़्त नहीं माँगा||


Kahate Hai Ki…..

” Dua Kubul Hone Ka Bhi Ek Waqt Hota Hai…

Par Mai Hairan Hu Ki Maine Use Kis Waqt Nahi Maanga!!

जो दिलो में शिकवे और जुबान पर शिकायते कम रखते है,

वो लोग हर रिश्ता निभाने का दम रखते हैं||


Jo Dilo Me Sikve Aur Juban Par Sikayate Kam Rakhte Hai,

Wo Log Har Rishta Nibhane Ka Dam Rakhte Hai!!

सुना  है आजकल तेरी….

मुस्कुराहट‬ गायब हो गयी है…

तू कहे तो फिर से तेरे क़रीब  आ जाऊँ…


Suna Hai Aajkal Teri…

Mushkurahat Gayab Ho Gayi Hai…

Tu Kahe Toh Fir Se Tere Kareeb Aa Jaao!!!

पता नहीं क्या जादू है ।

” माँ ”

के पेरो में जितना झुकता हूँ ।

उतना ही उपर जाता हूँ|


Pata Nahi Kya Jaadu Hai!!

“Maa”

K Pairo Me Jitana Jhukta Hu!!

Utana Hi Upar Jata Hu!!

वो जो दो पल थे तुम्हारी और मेरी मुस्कान के बीच …

बस वहीँ कहीं इश्क़ ने जगह बना ली..


Wo Jo Do Pal The Tumhari Aur Meri Mushkan K Beech…

Bas Wahi Kahi Ishq Ne Jagah Bana Li….

कुछ खास जादू नही है मेरे पास,

बस बातें दिल से करता हूँ..!!!!


Kuch Khash Jaadu Nahi Hai Mere Pass,

Bas Baatein Dil Se Karta Hu!!

दिल तोड़ने वाले,

ज़रा आहिस्ता दिल तोड़ना
यूँ एकदम से नहीं,

तुम आहिस्ता मुँह मोड़ना||


Dil Todhne Wale,

Jara Aahishta Dil Todhna

Yun Ekdam Se Nahi,

Tum Aahista Muh Maudhna!!

मै दौड़-दौड़ के खुद को पकड़ के लाता हूँ…

तुम्हारे इश्क ने बच्चा बना दिया है मुझे…


Mai Daudh- Daudh K Khud Ko Pakad K Lata Hu…

Tumhare Ishq Ne Bachcha Bana Diya Hai Mujh!!!

ये तो इश्क़ का कोई लोकतंत्र नहीं होता,

वरना रिश्वत दे के तुझे अपना बना लेते !!


YeToh Ishq Ka Koi Loktantr Nahi Hoga,

Werna Rishwat De K Mujh Apna Bana Lete!!

मेरी ज़िन्दगी में खुशियाँ तेरे बहाने से हैं ..

आधी तुझे सताने से हैं …

आधी तुझे मनाने से हैं  ||


Meri Jindagi Me Khushi Tere Bahane Se Hai…

Aadhi Mujhe Satane Se Hai…

Aadhi Tujhe Manane Se Hai!!!

धुँए की तरह उङना सीखो,

जलना तो लोग भी सीख गये हैं…!


Dhuye Ki Tarah Udana Sikho,

Jalna Toh Log Bhi Sikh Gaye Hai!!

ये जो हलकी सी फ़िक्र करते हो न हमारी बस इसलिए हम बेफिक्र रहने लगे हैं।


Ye Jo Halki Si Fikr Karte Ho Na Humari Bas Ishliye Hum Befikr Rahne Lage Hai!!

चलो दूर चलते है इस इंटरनेट से,

घर के रिश्ते “इंतजार” कर रहे है !!


Chalo Dur Chalte Hai Is Internet Se!!

Ghar K Rishte “Intazaar” Kar Rahe Hai!!

मेरा तुझ से मिलना मेरे लिए ख़्वाब सही, पर
मैं तुझे भूल जाऊ ऐसा लम्हा मेरे पास नही…


Mera Tujhse Milna Mere Liye Khawab Sahi , Par

Mai Tujhse Bhool Jaao Aisa Lamha Mere Paas Nahi!!

राधा,मीरा,रुक्मणी,सभी प्रेम के रूप, कहीं मिलन की छाँव है,कहीं विरह की धूप||


Radha, Meera, Rukmani, Sabhi Pream K Roop, Kahi Milan Ki Chaao Hai,Kahi Virah Ki Dhoop!!

तुम्हारी दुनिया में हमारी चाहे कोई किमत ना हो ,

मगर हमने हमारी दुनिया में तुम्हे रानी का दर्जा दे रखा है||


Tumhari Duniya Me Humari Chahe Koi Kimat Nahi Ho!!

Magar Humne Humari Duniya Me Tumhe Rani Ka Darja De Rakha Hai!!

मत पुछो कीतनी मोहब्बत  हैँ तूमसे….

बारिश की बूंद  भी अगर तुम्हे छू ले तो  दिल  मेँ आग  लग जाती हैँ|


Mat Pucho Kitani Mahobat Hai Tumse!!

Barish Ki Boondh Bhi Agar Tumhe Chu Le Toh Dil Me Aag Lag Jati Hai!!

अपनी दोस्ती का बस इतना सा असूल है,

जो तू कुबूल है….

तो तेरा सब कुछ कुबूल है…


Apni DostiKa Bas Itna Sa Asool Hai,

Jo Tu Kubul Hai…

Toh Tera Sab Kuch Kubul Hai!!

दिल का मौसम कभी तो खुशगवार हो जाये,

एक पल को सही तुझे भी मुझसे प्यार हो जाये||


Dil Ka MausamKabhi Toh Khushgawar Ho Jaye,

Ek Pal Ko Sahi Tujhe Bhi Mujhse Pyar Ho Jaye!!

हर कोई  अच्छा या बुरा  नही होता कुछ लोग  बस सच्चे होते हैं|


Har Koi Achcha Ya Bura Nahi Hota Kuch Log Bas Sachche Hote Hai!!

मिल सके आसानी से ,

उसकी ख्वाहिश किसे है?

ज़िद तो उसकी है …

जो मुकद्दर में लिखा ही नहीं||


Mil Sake Aashaani Se,

Uski Khawaish Kise Hai??

Jidh Toh Uski Hai,

Jo Mukadar Me Likha Hi Nahi!!

मेरी दिल की दिवार पर तस्वीर हो तेरी..

और तेरे हाथों में हो तकदीर मेरी।


Meri Dil Ki  Diwar Par Tashveer Ho Teri,

Aur Tere Hatho Me Ho Takdir Meri!!

सुना है तुम ज़िद्दी बहुत हो,
मुझे भी अपनी जिद्द बना लो.!!


Suna Hai Tum Jiddi Bahut Ho,

Mujh Bhi Apni Jidd Bana Lo!!

दिल मे छूपा रखी..

है मुहब्बत काले धन की तरह…

खुलासा नही करता हू कि कही हंगामा ना हो जाये||


Dil Me Chupa Rahi…

Hai Muhbaraak Khale Dhan Ki Tarah..

Khulasa Nahi Karta Hu Ki Kahi Hungama Na Ho Jaaye!!

ख़ुशी तकदीरों में होनी चाहिए,

तस्वीरों में तो हर कोई खुश नजर आता है||


Khushi Takdeero Me Honi Chahiye,

Tashveer Me Toh Har Koi Khush Najar Aata Hai!!

वो शाम का दायरा मिटने नहीं देते ,

हमसे सुबहे का इंतज़ार होता नहीं है ।


Wo Sayam Ka Dayara Mitane Nahi Dete,

Humse Subhhe Ka Intejaar Hota Nahi Hai!!

दिल मे बने रहना ही सच्ची शोहरत है,

वरना मशहूर तो कत्ल करके भी हुआ जा सकता है||


Dil Me Bane Rahna Hi Sachchi Sauharat Hai,

Werna Mashoor Toh Katal Kark Bhi Hua Jaa Sakta Hai!!

जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन क्यूंकि एक मुद्दत से मैंने न मोहब्बत बदली और न दोस्त बदले|


Jal Jaate Hai Mere Aandaaj Se Mere Dushman Kyuki Ek Mudat Se Maine Na Mohabbat Badali Aur Na Dost Badale!!

मजा आता है किस्मत से लड़ने में,

किस्मत आगे बढ़ने नहीं देती और मुझे रुकना आता नहीं||


Maja Aata Hai Kismat Se Ladane Me,

Kismat Aage Badane Nahi Deti Aur Mujh Rukna Aata Nahi!!

एक हसरत थी की कभी वो भी हमे मनाये..

पर ये कम्ब्खत दिल कभी उनसे रूठा ही नही।


Ek Hasrat Thi Ki Kabhi Wo Bhi Hume Manaye,

Par Ye KambakhtDil Kabhi Unse Rutha Hi Nahi!!

पहले तो यूं ही गुज़र जाती थीं , मोहोब्बत हुई…

तो रातों का एहसास हुआ..।।


Pahale Toh Yun Hi Gujar Jati Thi,

Mahobbat Hui Toh Raaton Ka Ehsaas Hua!!

काबील नजरो के लीये हम जान दे दे पर..

कोई गुरुर से देखे ये हमे मंजुर नही||


Kabil Najaro Ke Liye Hum Jaan De De Par..

Koi Gurur Se DEakhe Ye Hume Manjoor Nahi!!

मेरा वजूद नहीं किसी तलवार और तख़्त ओ ताज का मोहताज,

में अपने हुनर और होंठो की हंसी से लोगो के दिल पे राज करता है!!


Mera Wajud Nahi Kisi Talwaar Aur Takht Oo Taj Ka Mohtaj,

Me Apne Hunar Aur Hoton Ki Hasi SE Logo K Dil Pe Raj Karta Hai!!

जो मैं रूठ जाऊँ तो तुम मना लेना,
कुछ न कहना बस सीने से लगा लेना।


Jo Mai Rooth Jaao Toh Tum Mana Lena,

Kuch Na Kahna Bas Seene SE Laga Lena!!

लोग हर बार यही पूछते हैं तुमने उसमें क्या देखा ,

मैं हर बार यही कहता हूँ ,

बेवजह होती है मोहब्बत।


Log Har Baar Yahi Puchte Hai Tumne Usme Kya Deakha,

Mai Har Baar Yahi Kahta Hu,

Bewajah Hoti Hai Mahobaat!!

Aukat क्या है तेरी ऐ जिंदगी,

चार दिन कि मोहब्बततुझे तबाह कर देती है।


Aukat Kya Hai Teri E Jindagi,

Char Din Ki Mahobaat Tujhe Tabaah Kar Deti Hai!!

मरते तो तुझ  पर लाखो होगें,
मगर हम तो तेरे साथ मरना चाहते है !


Marte TohTujhe Par Lakho Hounge,

Magar Hum Toh Tere Saath Marna Chahte Hai!!

क्या ऐसा नहीं हो सकता हम प्यार मांगे…

और तुम गले लगा के कहो,

“और कुछ?”


Kya Aisa Nahi Ho Sakta Hum Pyar Maange…

Aur Tum Gale Laga K Kaho,

Aur Kuch!!!

‪Aukat कि बात मत कर ए-दोस्त…

तेरि बंदुक से ज्यादा लोग हमारी आंखो से डरते हे…


Aukat Ki Baat Mat Kar -E- Dost….

Teri Banduk Se Jayada Log Humari Aankho Se Darte Hai!!

मेरे दिल से उसकी हर गलती माफ़ हो जाती है,
जब वो मुस्कुरा के पूछती है, नाराज हो क्या.?


Mere Dil Se Uski Har Galati Maaf Ho Jati Hai,

Jab Wo Muskura K Puchta Hai, Naraj Ho Kya!!

तेवर तो हम वक्त आने पे दिखायेंगे,

शहेर तुम खरीदलो उस पर हुकुमत हम  चलायेंगे||


Tewar Toh Hum Waqt Aane Pe Dikhayenge,

Sahar Tum Khareeediyo Uss Par HukumatHum Chalayenge!!

कौन कहता है क़ि चाँद तारे तोड़ लाना ज़रूरी है
दिल को छू जाए प्यार से दो लफ्ज़, वही काफ़ी है!!


Kaun Kahata Hai Ki Chand Taare Todh Lana Jaruri Hai!!

Dil Ko Chu Jaye Pyar Se 2 Lafaj, Wahi Kaafi Hai!!!

काश…!!

एक खवाहिश पूरी हो इबादत के बगैर…!!!

वो आ कर गले लगा ले…..

मेरी इजाजत के बगैर||


Kash!!

Ek Khawaish Puri Ho Ibabat K Bagair!!

Wo Aa Kar Gale Laga Le!!

Meri Ijajat K Bagair!!

लोग चुराने लगे हैं स्टेटस मेरे,

गुजारिश है गम भी चुरा लो||


Log Churane Lage Hai Status Mere,

Gujarish Hai Gum Bhi Chura Lo!!

होता अगर मुमकिन,

तुझे साँस बना कर रखते सीने में,
तू रुक जाये तो मैं नही,

मैं मर जाऊँ तो तू नही||


Hota Agar Mumkin,

Tujh Saas Bana Kar Rakhte Seene Me,

Tu Ruk Jaaye Toh Mai Nahi

Mai Mar Jaao Toh Tu Nahi!!

तुम मुझे अच्छे या बुरे नहीं लगते बस अपने लगते हो।


Tum Mujh Achche Yaa Bure Nahi Lagte Bas Apne Lagte Ho!!

दुसरा मौका सिर्फ कहानियां देती है..

“हम”

नही|


Dusara Mauka Sirf KAhaniya Deti Hai..

“Hum”

Nahi!!

ये तो मेरा अंदाज हैं..,

प्यारा सा पगली,

हुनर तो तब दीखेगा जब मुकाबला होगा !


Ye Toh Mera Andaaz Hai..

Pyara Sa Pagali,

Hunar Toh  Tab Dikhega Jab Mukabala Hoga!!

प्यार अगर सच्चा हो तो कभी नहीं बदलता न वक़्त के साथ न हलात के साथ||


Pyar Agar Sachcha Ho Toh Kabhi Nahi Badalta Na Waqt K Sath Na Halat k Sath!!

तु हमारी बराबरी क्या करेगी ए पगली!!

हम तो #News भी # DJ पे सुनते है…!!!


Tu Humari Barabari Kya Karegi- E Pagali!!

Hum Toh #News Bhi # DJ Pe Sunte Hai!!

ये जो हलकी सी फ़िक्र करते हो न हमारी
बस इसलिए हम बेफिक्र रहने लगे हैं।


Ye Jo Halki Si Fikar Karte Ho Na Hamari!!

Bas Ishliye Hum Befikari Rahne Lage Hai!!

कहतें हैं कि मोहबत एक बार होती है..

पर मैं जब जब उसे देखता हूँ..

मुझे हर बार होती है॥


Kahte Hai Ki Mahobaat Ek Baar Hoti Hai,

Par Mai Jab Jab Usse Deakhta Hu !!

Mujh Har Bar Hoti Hai!!

ना वफ़ा का जिक्र होगा ना वफ़ा की बात होगी,

अब जिससे भी मोहब्बत होगी मार्च क्लोज़िंग के बाद होगी||


Na Wafa Ka Jikar Hoga Na Wafa Ki Baat Hogi,

Ab Jisse Bhi Mohabaat Hogi Maarch Closing K Baad Hogi!!!

है कोई वकील इस जहान में,
जो हारा हुआ इश्क जीता दे मुझको||


Hai Koi Vakeel Is Jagah Me,

Jo Hara Hua Ishq Jina DE Mujhko!!

यूँ तो आदत नहीं मुझे मुड़ के देखने की..

तुम्हें देखा तो लगा..

एक बार और देख लूँ||


Yun Toh Aadat Nahi Mujh Mudh K Deakhne Ki

Tumhe Deakha Toh Laga…

Ek Baar Aut Deakh Lu!!

चाहे कितनी भी

डाईटिंग कर लों

हसीनाओ जब तक

भाव खाना बंद नही करोगी,

वजन कम नही होगा||


Chahe Kitni Bhi Dieting Kar Lo

Haseenao Jab TAk

Bhaaw Khana Band Nahi Karoge,

Wajan Kam Nahi Hoga!!

अजीब दस्तूर है,

मोहब्बत का,
रूठ कोई जाता है,

टूट कोई जाता है||


Ajeeb Dastoor Hai,

Mahobaat Ka,

Rooth Koi Jata Hai,

Toot Koi Jata Hai!!

इतना किसी को सताया नहीं करते…

हद से ज़्यादा किसी को तड़पाया नहीं करते…

जिनकी साँसें चल्ती हों आपके लफ़्हज़ों से…

उन्हे अपनी आवाज़ के लिये तरसाया नहीं करते…


Itana Kisi Ko Sataya Nahi Karte..

Haad Se Jayada Kisi Ko Tadpaya Nahi Karte ..

Jinki Saanse Chalti Ho Aaapk Lafjo Se..

Unnhe Aapki Aawaj K Liye Tarsaaya Nahi Karte!!!

चार दिन वाली  ‪” Girl Friend‬” चाहिए,  ‪

फाँसी‬  का फन्दा नही।।


Char Din Wali

“Girl Friend” Chahiye,

Fasi Ka Fanda Nahi!!

जी भर गया है तो बता दो,
हमें इनकार पसंद है इंतजार नहीं||


Jee Bhar Gaya Hai Toh Bata Dau,

Hume Inkar Pasand Hai Intejaaar Nahi!!

आप से मिलकर हम कुछ बदल से गये शेर पडने लगे गुनगुनाने लगे पहले मशूहर थी अपनी संजिदगी अब तो लोगो से मिलने मिलाने लगे||


Aap Se Milkar Hum Kuch Badal Se Gaye  Ser Padane Lage Gungunane Lage Pahale Masoohar Thi Apni Sjindagi Ab Toh Logo Se Milne Milane Lagi!!

मेरा दिल आशिक़ाना और तेरा फिगर कातिलाना||


Mera Dil Aashikaana Aur Tera Figure Kaatilaana!!

मेरी ज़िन्दगी के “तालिबान” हो तुम बेमक़सद तबाही मचा रखी है||


Meri Jindagi K “Taalibaan” Ho Tum Bemakshad Tabahi Macha Rakhi Hai!!

मेरे इस दिल को तुम ही रख लो,

बड़ी फ़िक्र रहती है इसे तुम्हारी..!


Mere Iss Dil Ko Tum Hi Rakh Lo,

Badi Fikar Rahti Hai Isse Tumhari!!

उसे बारिश‬ ☂ मे भीगना अच्छा लगता है ओर ‪‎मुझे‬ सिर्फ़ बारिश मे भीगती हुयी ‪‎वो‬||


Usse Baarish Me Bhigana Achcha Lagta Hai Aur Mujh Sirf Baarish Me Bhigati Hui Wo!!

लडकी तो बहुत सी_पट जाती है साली जिसको दिलसे चाहते हैं वही नखरे दिखाती है|


Ladki Toh Bahut Si _ Pat Jaati Hai Saali Jisko Dilse Chahate Hai Wahi Nakhre Dikhati Hai!!

जान लेने पे तुले हे दोनो मेरी..इश्क हार नही मानता..दिल बात नही मानता||


Jaan Lene Pe Tule Hai Dauno Meri…

Ishq Haar Nahi Maanta ..

Dil Baat Nahi Maanta!!

अब जब भाजपा इतना कुछ वापिस ला ही रही है तो मेरा प्यार भी वापिस ला दे।


Ab Jab Baajpa Itana Waapis Laa Hi Rahi Hai Toh Mera Pyar Bhi Waapas La De!!

काश वो भी आकर हम से कह दे
मैं भी तन्हाँ हूँ ,तेरे बिन, तेरी तरह , तेरी कसम , तेरे लिए !


Kash Wo Bhi Aakar Hum Se Kah De

Mai Bhi Tanha Hu, Tere Bin , Teri Tarah, teri Kasham, Tere Liye

गिटार सिखा था जिस को पटाने के लिए …

आज ऑफर आया है उसकी शादी में बजाने के लिए !


Guitar Sikha Tha Jis Ko Pitane K Liye..

Aaj Offer Aaya Hai Uski Shaadi Me Bajane K Liye!!

 न किसी से दुश्मनी है सबसे अपनी यारी तेरी शौतन तो पट गयी चल अब तेरी बरी।


Na Kisi Se Dushmani Hai Sabse Apni Yaari Teri Sautan Toh Pat Gayi Chal Ab Teri Baari||

धडकनों को कुछ तो काबू में कर ऐ दिल,

अभी तो पलके झुकाई है,

मुस्कुराना बाकी है उनका ।।


Dhadkano Ko Kuch Toh Kaabu Me Kar -E- Dil,

Abhi Toh Palk Jhukai Hai,

Mushkurana Baaki Hai Unka!!

जीवन में कभी किसी को कसूरवार न बनायें….

अच्छे लोग खुशियाँ लाते हैं! बुरे लोग तजुर्बा!!


Jeevan Me Kabhi Kisi Ko Kasoorwaar Na Banaye..

Achche Log Khushiya Laate Hai!

Bure Log Tajurba!!

होती नहीं है मोहब्बत सूरत से;

मोहब्बत तो दिल से होती है;

सूरत उनकी खुद-ब-खुद लगती है प्यारी;

कदर जिनकी दिल में होती है।


Hoti Nahi Hai Mahobaat Suraj Se;

Mahobaat Toh Dil Se Hoti Hai;

Suraj Unki Khud – B- Khud Lagti Hai Pyari;

Kadar Jinki Dil Me Hoti Hai!!

अकाल मृत्यु वो मरे जो काम करे चंदाल का,,

काल भी उसका क्या करे जो भक्त हो महाकाल का||


Aakal Mritau Wo Mare Jo Kaam Kare Chandal Ka,,

Kaal Bhi Usska Kya Kare Jo Bhakat Ho MahaKal Ka!!

दिल का मौसम कभी तो खुशगवार हो जाये,
एक पल को सही तुझे भी मुझसे प्यार हो जाये|


Dil Ka Mausam Kabhi Toh Khushgawah Ho Jaaye,

Ek Pal Ko Sahi Tujhe Bhi Mujhse Pyar Ho Jaaye!!

क्यो ना गुरूर करू मै अपने आप पे….

मुझे उसने चाहा जिसके चाहने वाले हजारो थे!


Kyu Na Gurur Karu Mai Apne Aap Pe…

Mujh Ussne Chaha Jiske Chahne  Wale Hasaron The!!

अगर रुक गये और ,

हरेक भोकते हुवे कुत्ते पे,

पत्थर फेकने में समय बरबाद करेंगे,

तो अपनी मंजिल तक कभी नही पहोच पाओगे ||


Agar Ruk Gaye Aur,

Harek Bhaukte Hue Kutte Pe,

Pathr Fekne Me Samay Barbad Karenge,

Toh Apni Manjil Tak Kabhi Nahi Pahuch Paaoge!!

बाज़ार के रंगों से रंगने की मुझे जरुरत नही,

किसी की याद आते ही ये चेहरा गुलाबी हो जाता है||


Bajar K Rango Se Rangane Ki Mujhe Jarurat Nahi,

Kisi Ki Yaad Aate Hi Ye Chehra Gulabi Ho Jata Hai!!

बुरा वक्त सब पर आता है,

कोई बिखर जाता है,

तो कोई निखर जाता है|


Bura Waqt Sab Par Aata Hai,

Koi Bikhar Jata Hai,

Toh Koi Nikhar Jata Hai!!

खुद को माफ़ नहीं कर पाओगे,
जिस दिन जिंदगी में हमारी कमी पाओगे||


Khud Ko Maaf Nahi Kar Paaounge,

Jis Din Jindagi Me Humari Kami Paaounge!!

हर रीश्ता कोई ना कोई दरवाजा जरुर खोल देता है ।

या तो आंखो का ।

या तो दील का ।


Har Rishta Koi Na Koi Darwaja Jarur Khol Deta Hai!!

Ya Toh Aankho Ka,

Ya Toh Dil Ka!!

तरस गए हैं तेरे लब से कुछ सुनने को हम……

प्यार की बात न सही कोई शिकायत ही कर दे…


Taras Gaye Hai Tere Luv Se Kuch Sunane Ko Hum…

Pyar Ki Baat Na Sahi Koi Sikayat Hi Kar De!!

कोई लक्ष्य मनुष्य के साहस से बड़ा नही,

हारा वही…..

जो लड़ा नही||


Koi Lakshy Manushya K Saahash Se Badh Kar Nahi,

Hara Wahi..

Jo Ladha Nahi!!

पगली तू बात करने का मौका तो दे,

कसम से कहता हु,

रूला देंगे तुझे तेरे ही सितम गिनाते गिनाते||


Pagali Tu Baat Karne Ka Mauka Toh De,

Kasham Se Kahta Hu,

Rula Denge Tujhe Hi Sitam Ginate Ginate!!!

घुटन सी होने लगी है,

इश्क़ जताते हुए,
मैं खुद से रूठ गया हूँ,

तुम्हे मनाते हुए||


Ghutan Si Honi Lagi Hai,

Ishq Jatate Hue,

Mai Khud Se Rooth Gaya Hu,

Tumhe Manate Hue!!

कागज़ों पे लिख कर ज़ाया कर दूं,

मै वो शख़्स नही..

वो शायर हुँ जिसे दिलों पे लिखने का हुनर आता है..


Kagaj Pe Likh Kar Jaya Kar Du,

Mai Wo Shaksh Nahi…

Wo Sayar Hu Jise Dilo Pe Likhne Ka Hunar Aata Hai!!

सारा बदन अजीब से खुशबु से भर गया शायद तेरा ख्याल हदों से गुजर गया..


Sara Badan Ajeeb Se Kushboo Se Bhar Gaya Shayad Tera Khayal Haadon Se Gujar Gaya!!

“आखो की नमी  और उम्मीद की कमी   इंसान को कमज़ोर बना देती है !!”


Aankho Ki Nami Aur Umeed Ki Kami Insaan Ko Kamjor Bana Deti Hai!!

मेरी आँखों में आँसू नहीं,

बस कुछ “नमी” है..
वजह तू नहीं,

तेरी ये “कमी” है..


Meri Aankho Me Aansoon Nahi,

Bas Kuch Nami Hai,

Wajah Tu Nahi

Teri Ye Kami Hai!!

वो जो सर झुकाए बैठे हैं,

हमारा दिल चुराए बैठे हैं…

हमने कहा हमारा दिल लौटा दो,

वो बोली- हम तो हाथो में मेहँदी लगाये बैठे हैं….


Wo Jo Sir Jhuka Baithe Hai,

Humara Dil Churaye Baitha Hai,

Humne Kaha Humara Dil Lautta Do,

Wo Boli – Hum Toh Hatho Me Mehandi Lagaye Baithe Hai||

 ख्वाहिश भले पिद्दी सी हो,

लेकिन उसे पूरा करने के लिए,

दिल जिद्दी सा होना चाहिए !!


Khawaish Bhale Peechi Si Ho,

Lekin Usse Pura Karne K Liye,

Dil Jiddadi Sa Hona Chahiye!!

एक “सफ़र” ऐसा भी होता है दोस्तों
जिसमें “पैर” नहीं “दिल” थक जाता है||


Ek “Safar” Aisa Bhi Hota Hai Doston

Jisme “Pair” Nahi “Dil” Thak Jata Hai!!

ताकत के संग संग नेक इरादे भी रखना…..

वरना ऐसा क्या था जो रावण हार गया||


Takat K Saang Saang Nek Iraade Bhi Rakhna…

Werna Aisa Kya Tha Jo Ravaan Haar Gaya!!

तेरे इश्क से मिली है मेरे वजूद को ये शौहरत ,

मेरा ज़िक्र ही कहाँ था तेरी दास्ताँ से पहले।


Tere Ishq Se Mili Hai Mere Wajoot Ko Ye Sauharat,

Mera Jikar Hi Kaha Tha Teri Dasta Se Pahale!!

लम्हा भर मिल कर रूठने वाले,

ज़िंदगी भर की दास्तान है तू !


Lamha Bhar Mil Kar Roothne Waale,

Jindagi Bhar Ki Dastaan Hai Tu!!

सीढिया उन्हे मुबारक हो…..

जिन्हे छत तक जाना है…..

मेरी मन्जिल तो आसमान है…..

रास्ता मुझे खुद बनाना है….!!


Sidhiyaan Unnhe Mubaarak Ho,

Jinhe Chat Tak Jana Hai…

Meri Manzil Toh Aasmaan Hai,

Raastan Mujhe Khud Banana Hai!!!

तेज बारिश मेँ खड़ा रहा मैँ,

बस एक शब्द सुनने को…!!

वो कह दे…..

इधर आओ पागल भीग जाओगे….!!!


Tej Barish Me Khada Raha Mai,

Bas Ek Shabd Sunane Ko!!

Wo Kah De..

Idhar Aao  Pagal Bhig Jaaouge!!

दिल्लगी कर जिंदगी से, दिल लगा के चल
जिंदगी है थोड़ी,

थोडा मुस्कुरा के चल..!!


Dillagi Kar Zindagi Se,

Dil Laga K Chal

Jindagi Hai Thodi,

Thoda Mushkura K Chal!!

हर कोई पूछता है,

करते क्या हो तुम ???

जेसे मोहब्बत कोई काम ही नहीं…


Har Koi Poochta Hai,

Karte Kya Ho Tum??

Jise Mohabbat Koi Kaam Hi Nahi!!

जब वो नाराज होती है तब मुझे दुनिया की सबसे महेंगी चीज उसकी मुस्कान लगती है|


Jab Wo Naraaj Hoti Hai Tab Mujh Duniya Ki Sabse Mahangi Cheez Usski Mushkaan Lagti Hai!!

ले आओ कहीं से मोह़ब्बत के ‘हकीम’ को…


Is Site में तो,

सिर्फ ईश्क़ के मरीज है…!!

Le Aao Kahi Se Mahobbat K “Hakim” Ko ..

Is Site Me Toh,

Sirf Ishq K Mareez Hai!!

न जाने क्या मासूमियत है तेरे चेहरे पर…

तेरे सामने आने से ज़्यादा तुझे छुपकर देखना अच्छा लगता है …!!!


Na Jaane Kya Maasoomiyat Hai Tere Chahre Par..

Tere Saamane Aane Se Jayada Mujhe Chupkar Deakhna Achcha Lagta Hai!!

अपनी मौत भी क्या मौत होगी,

यू ही मर जायेंगे एक दिन तुम पर मरते-मरते !


Apni Maut Bhi Kya Maut Hogi,

Yun Hi Mar Jaayenge  Ek Din Tum Par Marte- Marte!!

तेरी याद में ये दिल कुछ इस कदर खो जाता है,

जैसे गणित की क्लास में कोई बच्चा सो जाता है||


Teri Yaad Me Ye Dil Kuch Issh Kadar Kho Jata Hai,

Jaise Ganit Ki Class Me Koi Bachcha So Jata Hai!!

बेवजह..

जब हम तुम से लड़ते थे ना,

पगली… बस वहीं से हुई थी,

शुरुआत महोब्बत की..!!


Bewajah…

Jab Hum Tum Se Ladhte The Na,

Pagali.. Bas Wahi Se Hui Thi,

Suruaat Mahobbat Ki!!!

ना किसी से ईर्ष्या,

ना किसी से कोई होड़,
मेरी अपनी मंजीले,

मेरी अपनी दौड़..!!


Na Kisi Se Irshaya,

Na Kisi SE Koi Hoadh,

Meri Apni Manzile,

Meri Apni Daudh!!

दोस्तों जशन की तैयारी करो पगली ने आज प्यार का इजहार कर दिया..!!


Doston Jashn Ki Tayaari Karon Pagali Ne Aaj Pyar Ka Ijhaar Kar Diya!!

दस्तूर ये दुनियाँ का,

फिर भी अच्छा है. .

जो दुःख मेँ साथ दे,

वहीँ तो प्यार सच्चा है..।


Dastoor Ye Duniya Ka,

Fir Bhi Achcha Hai,

Jo Dukh Me Sath De,

Wahi Toh Pyar Sachcha Hai!!

उन आंखो को चैन कहाँ आता हैं,

जिन आंखो में सवार इश्क हो जाता हैं|


Unn Aankho Ko Chain Kaha Aata Hai,

Jin Ankho Me Sawar Ishq Ho Jata Hai!!

मैंने समुन्दर से सीखा है जीने का सलीका,
चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना….!


Mai Samundar Se Seekha Gai Jeene Ka Saliffa,

Chupchap Se Bahana Aur Apni Maut Me Rahna!!

बस एक बार तुमसे बात हो जाए तो रात को दिल कहता है,

“आज दिन अच्छा था”||


Bas Ek Baar Tumse Baat Ho Jaaye Toh Raat Ko Dil Kahata Hai,

“Aaj Din Achcha Tha!!

मुजे ऊंचाइयों पर देखकर हैरान है बहुत लोग,
पर किसी ने मेरे पैरो के छाले नहीं देखे….!!


Mujhe Uchaaiyon Par Deakh Kar Hairaan Hai PBahut Log,

Par Kisi SNe Mere Pairon K Chale Nahi Deakhe!!!

अपनी बददुआये अपने पास रखिये “जनाब”,

मोहब्बत की मरीज हूँ,

खुद ब खुद मर जाऊँगी||


Apni Baddua Apne Paas Rakhiye Janab

Mahobaat Ki Mareez Hu,

Khud B Khud Mar Jaaoungi!!

जिंदगी मेरे कानो मे अभी होले से कुछ कह गई,
उन रिश्तो को संभाले रखना जिनके बिन गुज़ारा नहीं होता||


Jindagi Mere Kaano Me Abhi Haule Se Kuch Kah Gayi,

Unn Rishtoon Ko Sambhale Rakhna Jink Bin Gujara Nahi!!

इश्क़ है तो शक कैसा..?

अगर नहीं है तो फिर हक़ कैसा..?


Ishq Hai Toh Shaq Kaisa??

Agar Nahi Hai Toh Fir Haq Kaisa !!

झूठ बोलते थे कितना,

फिर भी सच्चे थे हम
ये उन दिनों की बात है,

जब बच्चे थे हम !!


Jhooth Bolte The Kitna,

Fir Bhi Sachche The Hum

Ye Unn Dino Ki Baat Hai,

Jab Bachche The Hum!!

 चेहरे “अजनबी” हो जाये तो कोई बात नही,
लेकिन रवैये “अजनबी” हो जाये तो बडी “तकलीफ” देते हैं !


Chehara “Ajnabi” Ho Jaaye Toh Koi Baat Nahi,

Lekin Rawaiya “Ajnabi ” Ho Jaaye Toh Badhi ” Takleef” Dete Hai!!

जरूरत और चाहत में बहुत फ़र्क है,
कमबख्त़ इसमे तालमेल बिठाते बिठाते ज़िन्दगी गुज़र जाती है !!!


Jarurat Aur Chaht Me Bahut Fark Hai,

Kambakht Ishme Taal Male Baithate Baithate Jindagi Gujar Jati Hai!!

 कुछ रिश्ते मुनाफा नहीं देते,
पर अमीर जरूर बना देते हैं|


Kuch Rishten Munafa Nahi Dete,

Par Aamir Jaroor Bana Dete Hai!!

ऐसा नहीं..

कि दिल में तस्वीर नहीं थी,

पर हाथों में तेरे नाम की लकीर नहीं थी||


Aisa Nahi…

Ki Dil Me Tashveer Nahi Thi,

Par Hathoon Me Tere Naam Ki Lakir Nahi Thi!!

बस यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने||

कि इल्जाम भले ही झूठे हैं पर लगाये तो तुमने हैं||


Bas Yahi Sochkar Koi Saffi Nahi Di Humne!!

Ki Illjaam Bhale Hi Jhoothe Hai Par Lagaye Toh Tumne Hai!!

शाम को थक कर टूटे झोपड़े में सो जाता है वो मजदूर,
जो शहर में ऊंची इमारतें बनाता है….


Shyam Ko Thak Kar Toote Jhopade Me So Jata Hai Wo Majdoor,

Jo Sahar Me uchchi Imarate Banata Hai!!

 अखबार तो रोज़ आता है घर में,

बस अपनों की ख़बर नहीं आती||

ऐ महोब्बत शरम से डूब मर,

तू एक शख्श को मेरा ना कर सकी।


Akhbaar Toh Roaz Aata HAi Ghar Me,

Bas Apno Ki Khabar Nahi Aati,

E- Mohabbat Sharam Se Dhoob Mar,

Tu Ek Shaksh Ko Mera Na Kar Saki !!

बड़ी चालाक होती है जिंदगी हमारी,

रोज़ नया कल देकर,

उम्र छीनती रहती है||


Badi Chalak Hoti Hai Jindagi Humari,

Rooz Naya Kal Dekar,

Umar Cheenati Rahti Hai!!

जब भी चाहा सिर्फ तुम्हे चाहा,

पर कभी तुम से कुछ नही चाहा..!!


Jab Bhi Chaha Sirf Tumhe Chaha,

Par Kabhi Tum Se Kuch Nahi Chaha!!

कैसे करू इस दिल की देख भाल,

रोज थोड़ा सा,

टूट जाता है||


Kaise Karu Iss Dil Ki Deakh Bhal,

Roj Thoda Sa,

Tooth Jata Hai!!

शीशे में डूब कर पीते रहे उस जाम को,

कोशिशें की बहुत मगर भुला न पाए एक नाम को|||


Seese Me Dub Kar Peete Rahe Uss Jaam Ko,

Koshish Ki Bahut Magar Bhula Na Paae Ek Naam Ko!!

मेरी उम्मीद का क़ातिल,

वो एक लफ्ज “खुदा हफिज़”

कुछ उनकी मजबूरियाँ,

कुछ मेरी कशमकश बस यूँ ही एक खूबसूरत कहानी को हमने खत्म कर लिया||


Teri Umeed Ka Kaatil,

Wo Ek Lafz ” Khuda Haffiz”

Kuch Unki Majburiyaan,

Kuch Meri Kashmkash Bas Yun Hi Ek Khubsurat Kahani Ko Humne Khatam Kar Liya!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *